टीचर्स स्टूडेट्स के साथ कर रहे थे अश्लील हरकत: दो टीचर्स को पेरेंट्स ने स्कूल में ही पकड़ा, फिर जमकर पीटा

PALI SIROHI ONLINE

उदयपुर के एक सरकारी स्कूल में शिक्षकों के नाबालिग बच्चों से अश्लील हरकत करने का मामला सामने आया है। मामला उदयपुर के वल्लभनगर थाना क्षेत्र के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय का है। जहां ग्रामीणों ने सरकारी स्कूल के दो अध्यापकों को स्कूल की नाबालिग बाच्चियों के साथ अश्लील हरकतें करने के आरोप में धर दबोचा और पुलिस के हवाले किया। पकड़े जाने के बाद अध्यापकों ने भी हरकतें करना कुबूला है।

टीचर अयूब अली और किशन लाल आमेटा विद्यालय की कक्षा छठी और सातवीं की बच्चियों के साथ अश्लीलता कर रहे थे। परेशान मासूम बच्चियों ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी। जिस पर शनिवार को ग्रामीण स्कूल पहुंचे। जमकर हंगामा कर दिया। ग्रामीणों के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए शिक्षकों ने भी अपने कृत्य को कबूल कर लिया। बाद में ग्रामीणों ने शिक्षकों की जमकर धुनाई कर दी। दोनों को वल्लभनगर पुलिस को सुपुर्द कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की।
प्रिंसिपल को पहले भी दी थी शिकायत

ग्रामीणों ने बताया की इस मामले में पहले भी प्रिंसिपल रामलाल तेली को ऐसे घटनाक्रम की सूचना दी गई थी। मगर प्रिंसिपल की अनदेखी के कारण शिक्षकों के हौसले बुलंद होते रहे। बच्चियों के साथ अति होने पर ग्रामीण स्कूल पहुंचे। दोनों को शिक्षकों को रंगे हाथों पकड़ लिया। इधर मामला बढ़ने पर भी शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारी मौके पर नही पहुंचे। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी जिस पर वल्लभनगर पुलिस मौके पर पहुंची। आरोपियों को पकड़ा।

विधायक प्रीति शक्तावत भी मौके पर पहुंची

इधर मामले की सूचना मिलने पर वल्लभनगर वल्लभनगर विधायक प्रीति शक्तावत भी पहुंची। उन्होंने मामले में आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। साथ ही इसे लेकर स्कूल के प्रिंसिपल को भी फटकार लगाई। प्रिंसिपल मामले को दबाने का प्रयास कर रहा था। इसे लेकर प्रीति ने कहा कि आप बच्चों के दूसरे मां-बाप होते हो और आप मामले को छिपाने की बात कर रहे हो । प्रीति ने कहा कि वो आपकी छोटी-छोटी बेटियां थी। प्रीति ने दोषियों पर कार्रवाई और एपीओ कराने की बात कही। इसके बाद प्रिंसिपल और एक शिक्षक ताराचंद डांगी को एपीओ कर दिया गया।