जिला कलेक्टर नमित मेहता ने जिला स्वास्थ्य की बैठक में दिए आवश्यक निर्देश

PALI SIROHI ONLINE

पिंटू अग्रवाल चामुंडेरी बाली

पाली, 27 अप्रैल। जिला कलेक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में बुधवार को जिला स्वास्थ्य भवन में बैठक आयोजित की गई। बैठक में उन्होंने चिकित्सा विभाग की महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में जिले के बीसीएमओ व सीएचसी के प्रभारी उपस्थित रहे।

इस मौके पर जिला कलेक्टर नमित मेहता ने कहा कि सरकार के लिए चिकित्सा विभाग की योजनाएं महत्वपूर्ण है। इसलिए चिकित्सक अपने चिकित्सा संस्थानों में आने वाले मरीजों को अच्छी सेवाएं देकर उस चिकित्सा संस्थान की व्यवस्था को सुदृढ़ कर सकते है।
उन्होंने कहा कि चिकित्सा संस्थानों में दवाओं की पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो। इसकी सुनिश्चितता तय करनी होगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना के अंतर्गत आवश्यक दवा सूची में शामिल दवाईयां अनुपलब्ध होने की स्थिति में स्थानीय क्रय के लिए आंवटित राशि से क्रय कर मरीजों को उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। साथ ही चिकित्सा संस्थानों में आने वाले रोगियों की निःशुल्क उपचार प्रदान करवाना एवं रोगियों एवं परिजनों से बाहर की दवा नहीं मंगवाई जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री दवा योजना के तहत स्थानीय क्रय की गई दवाईयों की ई-औषधी सॉफ्टवेयर में प्रविष्टियां कर मरीजों को वितरित की जाएं।

चिकित्सा संस्थानों में मुख्यमंत्री निःशुल्क दवा योजना के वार्षिक डिमांड के अनुसार जो दवाईयां डीडीडब्ल्यू में उपलब्ध है उन सभी दवाईयां की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता की जाएं।
उन्होंने कहा कि मरीजों की सुविधा के लिए चिकित्सा संस्थानों में आने वाले मरीजों के लिए दवा वितरण केंद्रों को बंद नहीं करने के भी निर्देश दिए। साथ ही जिन चिकित्सा संस्थानों में मरीजों की अधिकता है वहां पर नए दवा वितरण केन्द्र खोलने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के लिए भी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री निःशुल्क जांच योजना में मरीजों को अधिक से अधिक राहत दिलाने का प्रयास करें। उन्होंने चिकित्सा अधिकारियों से कहा कि वे ई-औषधि व ई-उपकरण पोर्टल को भी देखकर पेडिंग मामलों का समय पर निस्तारण करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हों इसकी सुनिश्चितता तय करें। उन्होंने इस योजना को गंभीरता से लेने के लिए चिकित्सा अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए तथा कहा कि मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकृत राजकीय चिकित्सालयों में अधिक से अधिक पैकेज बुक करने के निर्देश दिए तथा कहा कि अधिक पैकेज बुक करने से संबंधित चिकित्सा संस्थान में अधिक राशि मिलने से आवश्यक सुविधाएं मुहैया हो सकेगी।

उन्होंने इन पंजीबद्ध चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया वे आने वाले समय में इन अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों में से अधिकतर पैकेज बुक करें। इसमें लापरवाही नहीं बरतें। इस मौके पर कई चिकित्सा अधिकारियों की सराहना भी की।

उन्होंने एएनसी व संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने के निर्देश दिए तथा नियमित टीकाकरण, नसंबदी, घरेलू प्रसव रोकने के लिए प्रभावी मॉनिटरिंग के भी निर्देश दिए। उन्होंने सिलीकोसिस व दिव्यांग सर्टिफिकेट की पेंडेंसी को भी निर्धारित समय पर निपटाने के लिए चिकित्सा अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

बैठक में सीएमएचओ डॉ.विकास मारवाल ने चिकित्सा विभाग की योजनाओं की प्रगति के बारे में ब्लॉक वार अवगत कराया। उन्होंने आरसीएच गतिविधियां, कोविड टीकाकरण, अनिमिया मुक्त राजस्थान, तंबाकु मुक्त राजस्थान अभियान के तहत 100 दिवसीय कार्य योजना के तहत जिले में किए जा रहे कार्यों के बारे में अवगत कराया।
इस मौके पर एडीशनल सीएमएचओ डॉ.तेजपाल चारण, पाली पीएमओ डॉ.मोहम्मद रफीक, सोजत पीएमओ से डॉ.प्रतापराम सीरवी, बाली एसडीएच से डॉ.सलमा कादरी, बाली बीसीएमओ डॉ.हितेन्द्र वागोरिया, देसूरी के बीसीएमओ डॉ.राजेश राठौड़, सोजत बीसीएमओ डॉ.सोहनलाल सीरवी, खारची बीसीएमओ डॉ.कुलदीप सिंह, पाली बीसीएमओ डॉ.विरेन्द्र चौधरी, सुमेरपुर बीसीएमओ डॉ.गोविन्दसिंह चुण्डावत, डीपीएम भवानीसिंह, यूपीएम जितेन्द्र परमार, चिरंजीवी योजना के डीपीसी रामप्रकाश, डीएनओ विवेकपाल, जिला आशा समन्वयक कुलदीप गोस्वामी, जिला आईईसी समन्वयक नंदलाल शर्मा, एविडेंस एक्शन के रीजनल को-ओर्डिनेटर अमित त्रिवेदी सहित जिले के सभी बीसीएमओ, बीपीएम व सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी आदि उपस्थित रहे।