भतीजे ने किया था बड़ी मां का मर्डर: शराब के नशे में की अश्लील हरकत, गला घोंट कर मार डाला

PALI SIROHI ONLINE

उदयपुर के सुखेर थाना क्षेत्र में 13 दिन पहले खाली प्लॉट में मिले महिला के शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा दिया है। पुलिस ने महिला के एक रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है, जिसने शादी के बाद उसके साथ बैठकर शराब पी और उसके बाद छेड़छाड़ का विरोध करने पर गला घोंट कर उसका मर्डर कर दिया। मृतका आरोपी की दू में बड़ी मॉ लगती थी।

थानाधिकारी दलपत सिंह राठौड़ ने बताया कि 15 अप्रैल को लालू राम पुत्र नवल राम निवासी लखावली ने मामला दर्ज कराया कि उसकी मां गणेशी बाई पड़ोस में शादी में गई थी। इसके बाद को बुलाने गया, लेकिन शराब के नशे में होने के कारण उस साथ में नहीं आई। दूसरे दिन भीलवाड़ा बस्ती के पास एक खाली प्लॉट में मृत अवस्था में शव पड़ा मिला। शव के चेहरे, गर्दन और दोनों पांव पर रगड़ के निशान थे। पांवो में पहने कड़े और नाक कांटा भी ग़ायब था। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

थानाधिकारी ने बताया कि मृतका का भतीजा गोपाल गमेती पहले दिन से संदिग्ध नजर आ रहा था। वो बार-बार मृतका के पुत्र से पुलिस कार्रवाई के संबंध में पूछताछ कर रहा था। इस पर पुलिस ने गोपाल को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की तो उसने हत्या करना स्वीकार किया। पूछताछ में सामने आया कि आरोपी भी 14 अप्रैल शाम को उसके परिवार में शादी में शामिल होने गया था।

इसी दौरान गणेशी बाई को देखकर उसकी नीयत बिगड़ गई। उसने पहले तो गणेशी से काफी देर बातें की और शराब पिलाने का अपने घर की तरफ ले जाने लगा। इसी दौरान एक प्लॉट के पास दोनों ने साथ में बैठकर शराब पी। इस दौरान आरोपी ने गणेश जी भाई के साथ छेड़छाड़ करते हुए अश्लील की तो मृतका ने विरोध किया और शोर मचाया। इसी के चलते आरोपी ने मृतका का गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपी ने शव को घसीटकर उसी हालत में रोड के नीचे एक प्लॉट में ले जाकर डाल दिया।

पुलिस ने बताया कि आरोपी गोपाल गमेती भी ब ने पीने का आदी था। इसी के चलते उसने रिश्ते में अपनी दूर की बड़ी मां (पिता के बड़े भाई की पत्नी) के साथ बैठकर शराब पी। इसी दौरान छेड़छाड़ का विरोध करने पर आरोपी ने बदनामी के डर से गणेशी बाई को मौत के घाट उतार दिया।