दिनदहाड़े युवक का अपहरण, 3 बदमाश हिरासत में: रुपए को लेकर था विवाद, पुलिस ने 3 घंटे पीछा कर पकड़ा

PALI SIROHI ONLINE

जोधपुर।जोधपुर में मंगलवार सुबह एक युवक का किडनैप कर लिया गया। तीन बदमाश युवक को कार में डालकर नागौर की तरफ ले गए। इसकी सूचना जब परिजनों को मिली तो उन्होंने पुलिस को बताया। पुलिस की अलग-अलग टीम ने 3 घंटे तक पीछा करते हुए नागौर से युवक को बरामद कर लिया। साथ में 3 बदमाशों को हिरासत में लिया गया है।

घटना मंगलवार सुबह करीब 10:30 बजे शहर के बोरानाड़ा क्षेत्र की है। रुईचा कला निवासी गोविंद विश्नोई सुबह सालावास से शहर की तरफ आ रहा था। उसके साथ चाचा का लड़का दिनेश भी था। बोरानाड़ा के पास एक कार आई और दोनों को रोक दिया। कार में सवार तीन बदमाश नीचे उतरे और मारपीट शुरू कर दी। इस पर गोविंद को कार में बैठाने का प्रयास किया। बदमाशों ने उसे भी बुरी तरह से पीटा। इसके बाद तीनों गोविंद का किडनैप कर फरार हो गए। दिनेश ने इसकी जानकारी घरवालों को दी। घरवालों ने पुलिस को बताया। डीसीपी पश्चिम वंदिता राणा ने बताया कि टीम ने बदमाशों का पीछा किया और नागौर के जायल से डिटेन किया गया है। सभी को जोधपुर लाया जा रहा है। इसके बाद ही पूरे मामले का खुलासा हो पाएगा। पुलिस ने इस मामले में कमलेश पुत्र प्रकाश राम जागीरदार, रणवीर पुत्र गणपत लाल जाट और लीलाराम पुत्र निर्धाराम को हिरासत में लिया है।

निजी कंपनी में काम करता है गोविंद, रुपए का लेन-देन आया

सामने

एसीपी बोरानाडा जयप्रकाश अटल ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया है। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि तीनों के बीच रुपए के लेन-देन को लेकर विवाद था गोविंद निजी फोर व्हीलर कंपनी में काम करता था। इसके साथ ही वह कॉम्पिटिशन एग्जाम की तैयारी कर रहा था।

नाकाबंदी के डर से बीच रास्ते में गोविंद को फेंका, खुद भागे एडीसीपी हरफूल सिंह ने बताया कि बदमाशों को बीच रास्ते में भनक लग गई थी कि नाकाबंदी में वे पकड़े जाएंगे। ऐसे में बदमाशों ने उसे बीच रास्ते में ही गाड़ी से फेंक दिया और खुद फरार हो गए। पुलिस को नागौर की तरफ बदमाशों की लोकेशन मिली थी। इसके बाद जायल थाना क्षेत्र में नाकाबंदी की गई और तीनों को हिरासत में लिया। गौरतलब है कि 6 दिन पहले भी बोरानाड़ा से एक ज्वेलर की किडनैप हो गया था। इसके बाद उसकी हत्या कर दी थी। इधर, 6 दिन में यह दूसरा मामला सामने आने के बाद पुलिस पहले से अलर्ट हो गई।