पुरानी पेंशन बहाली को लेकर राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील उपशाखा ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार व्यक्त किया

PALI SIROHI ONLINE

राव मुकेशपाल सिंह/पिण्डवाड़ा

पिण्डवाडा 2004 बाद नियुक्त राज्य कर्मियों की पुरानी पेंशन योजना की पुनः बहाली पर राजस्थान शिक्षक संघ(प्रगतिशील) के समर्थकों ने आतिशबाजी कर गुलाल उडाकर जिन्दाबाद के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम उपखण्ड अधिकारी पिण्डवाडा के मार्फत आभार अभिनन्दन ज्ञापन दिया । संगठन के जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगदीश खण्डेलवाल एवं उपशाखा अध्यक्ष मनोहर सिंह चौहान के संयुक्त नेतृत्व में शिक्षकों के भारी लवाजमें के साथ उपखण्ड कार्यालय पर उपस्थिति दर्ज करवाकर पुरानी पेंशन योजना की पुनः बहाली पर दिल खोलकर होली पूर्व होली का गुलाल उडाकर अपनी खुशी जाहिर करते हुये मुख्यमंत्री की जिन्दाबाद से गगन गुॅंजा दिया।

अपने साथियों को सम्बोधित करते हुये संगठन के जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगदीश खण्डेलवाल ने कहा कि कर्मचारियों की 2004 बाद नियुक्ति पर पुरानी पेंशन योजना को बन्द कर उनकी बुढापे की लाठी को छीनने का भाजपा की तत्कालीन केंद्र सरकार ने जो महापाप किया था राज्य के बजट भाषण में लोकप्रिय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पुण्यशाली निर्णय से उस महापाप को धोकर राज्य के कर्मचारियों के हाथ में बुढापे की लाठी को पुनः थमा मृत्यु पर्यन्त स्वाभिमान से जीने का अधिकार प्रदान किया हैं। आज के बाद राज्य के कर्मचारी अशोक गहलोत को भी अशोक महान के नाम से याद रखेंगे।

संगठन के उपशाखा अध्यक्ष मनोहर सिंह चौहान ने सम्बोधन में कहा कि 2004 के बाद नियुक्त राज्यकर्मियों की पुरानी पेंशन की पुनः बहाली की मांग संगठन द्वारा समय समय पर ज्ञापन देकर आप श्रीमान के समक्ष रखी गई जिसपर जनप्रिय मुख्यमत्रीं अशोक गहलोत ने अपने भाषण में यह कहकर अभिभुत कर दिया कि कर्मचारी अपने भविष्य के प्रति सुरक्षित महसुस करेगा तभी वह लोकहित में सेवा देने को सदैव तत्पर रहेगा।2004 बाद नियुक्त कार्मिकों की पुरानी पेंशन की पुनः बहाली पर राज्य के करीब आठ लाख कर्मचारी परिवारों की ओर से ज्ञापन में संगठन नें गहलोत सरकार का हार्दिक अभिनन्दन आभार प्रकट किया।

इसी क्रम में ज्ञापन में एक ओर निवेदन है कि सेकण्ड ग्रेड से व्याख्याता पद पर पदौन्नति पर शिक्षक के चयनित वेतनमान को 9-18-27 से खिसकाकर 10-20-30 कर पदौन्नति पर आर्थिक दण्ड देने प्रक्रिया पर भी शीघ्रता से विचार कर राहत दी जावे जिससे राज्य के लाखों पदोन्नत व्याख्याता गहलोत सरकार की जिन्दाबादी करते रहे। ज्ञापन स्थल पर उपाध्यक्ष अमित लौहार मंत्री रमेश दहिया महिला मंत्री उम्मेद कंवर प्रवक्ता गुरुदीन वर्मा अशोक मालवीय रघुनाथ मीणा शान्तिलाल लौहार कांतिलाल मीणा मुकेश सैनी सुरेश वसेठा नारायण सिंह देवड़ा मोतीलाल गरासिया सुरेश कुमार गरासिया मोहम्मद सलीम किशोर गुर्जर मोतीराम रेबारी मोहम्मद अकरम महावीर सिंह अर्जुन मीणा लव कुमार पूराराम गोपाल रावल ममता दाधीच सुशीला चौहान इंद्रा चौहान ललिता व्यास किरण कंवर सलमा शेख साधना खेरावत सहित भारी मात्रा में शिक्षक उपस्थित थे।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA