साल के पहले दिन से मिलावटखोरों पर शिकंजा:खाद्य विभाग की कार्रवाई से व्यापारियों में मचा हड़कंप,31 मार्च तक चलेगा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान

PALI SIROHI ONLINE

सीकर।साल 2022 के पहले दिन से राजस्थान में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान शुरू हो चुका है। अभियान में हर जिले में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम खाद्य पदार्थों की दुकानों पर कार्रवाई करेगी। सीकर में लुहारु बस स्टैंड, तबेला बाजार, जाट बाजार सहित कई मुख्य बाजारों में कार्रवाई की। टीम ने मावा,पनीर आदि के सैंपल लिए।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी रतन लाल गोदारा ने बताया कि 1 जनवरी से शुद्ध के लिए युद्ध अभियान शुरू किया गया है। डेयरी प्रोडक्ट्स और ड्राई फ्रूट्स की दुकानों पर कार्रवाई की जा रही है। दूध,मावा,पनीर आदि के सैंपल लिए जा रहे हैं। एक्सपायरी डेट के पैक्ड खाद्य पदार्थों को भी नष्ट करवाया जा रहा है। अभियान 31 मार्च तक जारी रहेगा।

रतन लाल गोदारा ने बताया कि अभियान के पहले दिन लुहारू बस स्टैण्ड स्थित सरसर पार्लर से पांच लीटर अवधि पार आईसक्रीम व 10 पैकेट टोस्ट के नष्ट करवाए गए। वहीं जांच के लिए हल्दी पाउडर, बादाम, दूध व बेसन का एक-एक सैम्पल लिया गया।सीकर शहर में गुरूकृपा डेयरी दूध का सैम्पल लिया गया। काबरा प्लोर मिल के यहां से बेसन, सुंदरिया मसाला के यहां से हल्दी पाउडर और जगदीश एंड कम्पनी के यहां से बादाम का नमूना लिया गया।

इसके अलावा सीकर शहर में पांच प्रतिष्ठानों पर दूध, पनीर की जांच की गई। इनमें से चार नमूने सही पाए गए। एक जगह दूध में एसएनएफ की मात्रा कम पाई गई।

कांटा व बांट सत्यापित नहीं होने पर दो व्यापारियों का चालान
गोदारा ने बताया कि पहले दिन चार ड्राई फ्रूटर्स की दुकानों का निरीक्षण कर व्यापारियों का पाबंद किया गया कि वे बिना बैच नंबर व एक्यपायर तिथि लिखा सामान नहीं बेचे। दुकानों पर साफ सफाई रखने और मिलावट नहीं करने की सख्त हिदायत दी। टीम में एसएसओ रतन गोदारा, मदन बाजिया, सीकर तहसीलदार, सरस डेयरी की टीम व भगवती पालीवाल माप तोल अधिकारी शामिल थे। पालीवाल ने कांटा व बांट सत्यापित नहीं होने पर दो व्यापारियों का चालान किया गया।

पाली सिरोही ऑनलाइन के सोशियल मीडिया हैंडल से जुड़ें…

ट्विटर
twitter.com/SirohiPali

फेसबुक
facebook.com/palisirohionline

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें
https://youtube.com/channel/UCmEkwZWH02wdX-2BOBOFDnA