अंतर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस सादगी के साथ मनाया गया,प्रषिक्षणार्थियों को दिलवाई नाईटिंगेल शपथ, इस वर्ष की थीम का किया विमोचन

पाली में अंतर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस सादगी के साथ मनाया गया। प्रषिक्षणार्थियों को दिलवाई नाईटिंगेल शपथ, इस वर्ष की थीम का किया विमोचन
श्रेष्ठ कार्य करने वाले प्रषिक्षकों एवं प्रषिक्षणार्थियों को प्रषस्ति-पत्र प्रदान किये।

पाली चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अधीन राजकीय बांगड़ चिकित्सालय परिसर में संचालित जिला स्वास्थ्य एवं परविर कल्याण प्रशिक्षण केन्द्र पर मंगलवार 12 मई को दोपहर डेढ बजे आधुनिक नर्सिंग की जननी सुश्री फ्लोरैन्स नाईटिंगेल का जन्म दिवस अंतर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस के रूप में सादगी के साथ मनाया गया।

प्रशिक्षण केन्द्र के प्रधानाचार्य के. सी. सैनी ने बताया कि इस अवसर पर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.पी. मिर्धा द्वारा प्रेषित किये गये शुभकामना संदेष का वाचन किया तथा सभी प्रषिक्षकों एवं प्रषिक्षणार्थियों को नर्सेज दिवस की शुभकामनायें प्रेषित की। उन्होंनें जिले के समस्त नर्सिंग कर्मचारियों एवं प्रषिक्षणार्थियों को नर्सेज दिवस की शुभकामनाए देते हुए उनका आह्वान किया कि वे सुश्री फ्लोरैन्स नाईटिंगेल द्वारा किये गये कार्यो का अनुसरण करते हुए समर्पण भाव से सेवायें प्रदान करें ताकि सच्चे अर्थों में सुश्री फ्लोरैन्स नाईटिंगेल को उनके जन्म दिवस पर श्रृद्धाजंलि अर्पित की जा सकें, साथ ही नर्सिंग सेवाओं में गुणवत्ता बनाये का भी आह्वान किया। उन्हांने बताया कि नर्सिंग व्यवसाय पूरी दुनिया में एक आदर्ष व्यवसाय के रूप में जाना जाता है। नर्सेज चिकित्सक के कार्यों में चिकित्सा दल के सक्रिय सदस्य के रूप में उनकी मदद कर मरीजों को प्रभावी राहत दिलाने में मददगार साबित हो सकते हैं। इस मौके पर फ्लोरैन्स नाईटिंगेल की प्रतिज्ञा का वाचन भी किया गया। प्रषिक्षण केन्द्र के सभी प्रषिक्षकों एवं प्रषिक्षणार्थियों की उपस्थिती में सुश्री फ्लोरैन्स नाईटिंगेल के चित्र पर पुष्पाहार अर्पित किये गये तथा दीप प्रज्जवलन किया गया। प्रधानाचार्य के. सी. सैनी ने अंतर्राष्ट्रीय नर्सेज दिवस की इस वर्ष की थीम ’’ नर्सेज- ए वॉईस टू लीड एवं नर्सिंग : दी वर्ल्ड टू हैल्थ ’’ के संदेष का विमोचन भी किया।

इस दौरान कोविड-19 के बचाव हेतु पाली शहर के लोगों के लिये जनजागस्कता हेतु आयोजित सघन प्रचार प्रसार एवं सर्वे में प्रभावी मोनिटरिंग हेतु मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.पी. मिर्धा ने जिला प्रषिक्षण केन्द्र के प्रषिक्षकों श्रीमती लूसी चाको, श्रीमती जिस्मा जोन, मदन गोपाल वैष्णव, पारसमल कुमावत, दिनेष कुमार , महेन्द्र कुमार तथा कन्टेनमैन्ट सर्वे में कार्य करने वाली समस्त ए.एन.एम. प्रषिक्षणार्थियों को प्रषस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।