पानी के बहाव में ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से बहे चार ग्रामीण

PALI SIROHI ONLINE

बनेठा-सुरेली मार्ग पर काकरिया खाल में शनिवार सुबह तेज बहाव मे गिट्टी से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटी खा गई, जिससे उसमें सवार चार ग्रामीण पानी में बह गए, जिन्हें स्थानीय युवाओं ने काफी मशक्कत कर बचाया। घटना की सूचना मिलने पर बनेठा थाना पुलिस थानाधिकारी राजमल मय जाब्ता मौके पर पहुंचे।और उक्त नाले पर आवागमन बंद कर दिया गया और राहगीरों को नाला पार नहीं करने की हिदायत दी गई ।

बनेठा सुरेली मार्ग पर स्थित काकरिया खाल उफान पर आने से बनेठा सुरेली अलीगढ़ एवं चौथ का बरवाड़ा का मार्ग बंद रहा, वहीं ढिकोलिया मार्ग पर भी सूथड़ा में तालाब का ओवरफ्लो पानी मंडालिया चौराहे पर स्थित रपट पर पानी अधिक आने से उक्त मार्ग भी दोपहर तक बंद रहा, जिससे ग्रामीणों और राहगीरों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ा।डेढ़ दर्जन गांव से संपर्क कटा बनस्थली. क्षेत्र में बांडी खारा कोशी नदी में पानी की आवक तेज होने से बनस्थली का जोधपुरिया सुनारी-सुनारा, चतुर्भुजपूरा, मनोहरपुरिया, लोदेडा सहित करीब डेढ़ दर्जन गांव से संपर्क कट गया है।

दौलतपुर में बिडोली बांध का पानी अपनी क्षमता बारह फीट भरकर डेढ़ फीट ऊपर हो गया हे , जिससे दौलतपुरा के एनिकट में भी चादर चल रही हैं,

वह जौधपुरिया के बांध में भी पानी की आवक शुरू हो गई है।बनस्थली जोधपुरिया मार्ग पर बांडी खारा कोसी नदी का पानी रास्ते पर आने से गुर्जर समाज के आराध्य देव देवनारायण मंदिर जौधपुरियां का रास्ता अवरुद्ध हो गया है, जिले में पानी में डूबने से गम्भीर हादसे हो चुके हैं। आधा दर्जन से अधिक की मौत हो चुकी है। इसके बावजूद लोग पानी की आवक के बीच से गुजरने से बाज नहीं आ रहे हैं। जबकि नदी नालों में पानी का दबाव कब बढ़ जाए।इसका कहना मुश्किल है। ऐसे में लोगों को चाहिए कि लम्बा समय लग जाए, लेकिन वैक्लपिक रास्तों से आवागमन करना चाहिए, लेकिन लोग बनास नदी और चूली रपट से आवागमन से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे में यहां कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।