अनुसूचित जातियां एक होकर एक दूसरे को ऊपर उठाए- सत्यवीरसिंह

PALI SIROHI ONLINE

सोनाणा में मेघवाल समाज का चिंतन शिविर संपन्न

अनुसूचित जातियां एक होकर एक दूसरे को ऊपर उठाए- सत्यवीरसिंह

श्री मारवाड़ मेघवाल सेवा संस्थान के तत्वावधान में सोनाणा के जूनीधाम प्रागण में रविवार को आयोजित सामाजिक चिंतन शिविर उदयपुर के पुलिस आईजी सत्यवीरसिंह ने ‘जात नही जमात बने’ की अवधारणा प्रस्तुत करते हुए कहा कि अनुसूचित जातियों को एक जाजम पर आना होगा और सभी अनुसूचित जातियों को ऊपर उठने के आपस मे एक दूसरी जाति को समान अवसर उपलब्ध कराने में सहयोगी बनना होगा। उन्होंने कहा कि इसी अवधारणा पर उनका संगठन ‘अजाक’ काम कर रहा हैं।


सत्यवीर सिंह ने शिविर में अनुसूचित जातियों के उत्थान,एकता,प्रतिभाओ के उन्नयन व कुरीतियों को रोकने के विषय मे संबोधित किया।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि लेखक भंवर मेघवंशी ने कहा कि घरों को थाली बर्तनों को सजाने की बजाए किताबों से भरो और पढ़ने की आदत डालो। जिससे समाज अंधविश्वास व कुरीतियों से मुक्त हो सके।

कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्थान सरंक्षक अचलाराम मेघवाल ने कुरीतियों पर बोलते हुए मौजूद लोगों से मृत्यु भोज नही चाहने वालो से हाथ खड़े करने को कहने पर सभी ने सहमति में हाथ खड़े किए। इसी के साथ उन्होंने घोषणा की कि उनकी मृत्यु के बाद मृत्युभोज नही किया जाए। इस घोषणा का सभी ने करतल ध्वनि से स्वागत किया और कहा कि समाज सुधार की दिशा में मेघवाल की यह घोषणा एक महत्वपूर्ण कदम होगी।
कार्यक्रम का शुभारंभ बाबा साहब अम्बेडकर की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित करने के साथ हुई। इस दौरान अतिथियों का स्वागत करते वक्त आईजी सत्यवीर सिंह ने माला व साफ़ा पहनने से इनकार किया और कहा कि इस शिष्टाचार में सम्मेलनों में काफी समय और पैसा फिजूल हो जाता हैं।
कार्यक्रम के दौरान अतिथियों के हाथों से संस्थान ने कोरोनाकाल में निराश्रित हुए 18 वर्ष व इससे कम आयु के अध्धयनरत बच्चो की मदद के लिए आर्थिक सहायता वितरित कराई।
संस्थान के अध्यक्ष नारायण लाल तंवर,सचिव मांगीलाल गहलोत व कोषाध्यक्ष नारायण लाल लोंगेशा,संस्थान के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद पाल सिंह,पूर्व कोषाध्यक्ष तुलसीराम बोस,रानी तहसील संस्थान के अध्यक्ष पुखराज बाघोणा,डिस्कॉम एक्सईएन हरीश देवपाल,पूर्व जिला रसद अधिकारी टीआर भाटी,प्रधानाचार्य टीआर बागरेचा,भानाराम मोबारसा,ग्राम विकास अधिकारी नारायण मोबारसा,समाज सेवी वदाराम बोस सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारीगण व संस्थान कार्यकर्ता मौजूद थे।