नारलाई में फागुन फेरी का शानदार आयोजन जैन समाज सहित 36 कोम ने लगाई परिक्रमा

पाली सिरोही ऑनलाइन

देसूरी (जगदीश सिंह गहलोत) देवनगरी नारलाई मे शुक्रवार को सुबह 8:30 बजे श्री आदिनाथ मंदिर से फागुन फेरी गाजे-बाजे धूम धमाके से आचार्य भंगवत श्रीविजय चिदानंदसुरीश्ररजी की पावन निश्रा में आगाज हुआ ।

फागुन फेरी शनीचर मंदिर चौपा हनुमानजी होते हुऐ केसूली मार्ग से होते हुए हिंगलाज माता मंदिर अन्य गुड़ा हनुमानजी होते हुए दादावाड़ी पहुंची । जहां धर्म सभा का आयोजन हुआ वही पहाड़ी पर स्थित शत्रुजय मंदिर पहुंच दर्शन लाभ लिया गया ।

धर्म सभा को संबोधित करते हुए आचार्य भंगवत श्रीविजय चिदानंदसुरीश्ररजी महारासा ने कहां की हमें अच्छे लोगों की जरूरत है ना की भीड़ की आज मुझे यहां पर जैन समाज के साथ ही 36 कोम की अच्छे लोग नजर आ रहे हैं यह देवनगरी नारलाई के लिए सौभाग्य की बात है उन्होंने परिक्रमा मार्ग के लिए दिन रात मेहनत करने वाले ग्राम पंचायत सरपंच शेखर मीणा व ग्राम विकास अधिकारी अचल सिंह सोलंकी एवं गांव की सरपंच के सहयोगीयो टीम को बधाई दी।

सभा को संबोधित करते हुए समाजसेवी आनंद भंडारी ने कहा कि गांव के विकास के लिए जैन समाज सदैव अग्रणी रहा है और आगे भी रहेगा समाजसेवी हसमुखभाई बाफना ने संबोधित करते हुए कहा कि मातृभूमि के लिए काम आना यह हमारी सौभाग्य की बात है नहीं सरपंच शेखर मीणा ने संबोधित करते हुए कहा कि जैन समाज ने जिस तरीके से पिछले 1 साल से ग्राम पंचायत को सहयोग किया है कोरोना काल एवं लॉकडाउन में आप सभी ने मुझे जो सहयोग दिया उसके लिए मैं आप का आभार व्यक्त करता हूं और आप द्वारा दिया गया एक एक रुपैया का हिसाब मेरे पास है और एक एक रुपैया गरीब भूखे के लिए राशन सामग्री के रूप में दिया गया है कोरोना काल में आपके सहयोग को हम कभी भूल नहीं सकते आपका सहयोग गांव के लिए अति आवश्यक है। मंच संचालन करते हुए एडवोकेट राजेंद्र सिंह गहलोत ने जोशीली आवाज के साथ जैन समाज द्वारा किए गए कार्यों की तारीफों के पुल बांध दिए उन्होंने बताया कि मुख्य बस स्टेशन से शीतल जल जल व्यवस्था वहीं गांव की अंतिम छोर जल का कुआं जैन बालचंदजी भंडारी द्वारा गांव को अर्पित किया गया है वही इस समय गांव की साफ सफाई के लिए उनके पुत्र आनंद भाई भंडारी द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत ग्राम पंचायत को वाहन भेंट किया गया है जिससे घर घर कचरा संग्रह किया जा रहा है यह इस पंचायत की बहुत बड़ी उपलब्धि है वही परिक्रमा मार्ग को लेकर असंभव को संभव कर दिखाया है। इस अवसर पर आनंद कुमार भंडारी ,हसमुख कुमार बाफना, कमलेश कुमार चंडालिया प्यारेलाल चंडालिया ललित कुमार बाफना,भुरमल बाफना, नरेशभाई,किरणकुमार,रुपचंद, अशोककुमार, मोतीलाल देसूरी सरपंच शेखर मीणा भाजपा मंडल उपाध्यक्ष जगदीश सिंह गहलोत पूर्व पंचायत समिति सदस्य प्रभुदास वैष्णव एडवोकेट राजेंद्र सिंह गहलोत प्रकाश माली वार्ड पंच रमेश चौधरी वार्ड पंच अमृत मालवीय वार्ड पंच गिसूलाल कंडारा, भरत व्यास नथा राम मेघवाल सूरज भानसिंह सहित जैन समाज के गणमान्य व्यक्ति प्रवासी बंधु महिला शक्ति सहित 36 कोम के ग्रामीण मौजूद रहे।

आकर्षक का केंद्र रही परिक्रमा

परिक्रमा कि आगे अश्व सवार हाथों में झंडे लेकर चल रहे थे । वही परिक्रमा का आगाज करते हुए आचार्य भगवंत सहित जैन समाज की के गणमान्य व्यक्ति चल रहे थे उन्हीं के साथ 36 कोम के व्यक्ति चलते हुए नजर आ रहे थे वही पीछे राजस्थानी वेशभूषा में सज धज कर महिला शक्ति जय जिनेंद्र जय आदिनाथ के जयकारों के साथ महिला शक्ति परिक्रमा को चार चांद लगा रही थी।

परिक्रमा में आदिनाथ के जयकारों के साथ जमकर हुआ नृत्य

परिक्रमा के 4 किलोमीटर में जगह-जगह आचार्य भगवंत की निश्रा में सरपंच शेखर मीणा समाजसेवी आनंद भंडारी कमलेश चंडालिया सहित भक्तों ने जमकर नृत्य करते हुए इस परिक्रमा को यादगार बना दिया

असंभव को संभव कर दिखाया सरपंच मीणा ने आचार्य भगवंत के आदेश पर हुए सम्मानित

परिक्रमा मार्ग 4 किलोमीटर इतना कठिन और विकट था कि लोगों को पैदल जाने में भी दुविधा में महसूस होती थी उस असंभव मार्ग को संभव करते हुए शानदार परिक्रमा बढ़ाकर एक अनूठा उदाहरण पेश किया जिस पर आचार्य भगवंत ने सरपंच शेखर मीणा ग्राम विकास अधिकारी अचल सिंह सोलंकी सहित सरपंच मीणा को सहयोग करने वाली टीम साफा माल्यार्पण एवं तिलक लगाकर सम्मानित किया गया।