तेज बारिश के चलते कातली नदी में आया पानी,पहाड़ियों से बहने लगे झरने

PALI SIROHI ONLINE

जयपुर। प्रदेश के सीकर जिले में सुबह से तेज बरसात का दौर जारी है। जिले के गणेश्वर व आसपास के इलाके में सुबह पांच बजे से जारी तेज बरसात से कातली नदी में पानी आ गया है।

गणेश्वर की पहाडिय़ों से एकसाथ आठ झरने भी फूट पड़े हैं। अन्य नदी- नालों में भी पानी की चादर चल गई है।

वहीं, अजीतगढ़, पलसाना, फतेहपुर, धोद, लोसल, फागलवा व सीकर शहर सहित जिले के कई इलाकों में भी बरसात का दौर देखने जारी है। जो रुक रुककर हल्की तो कहीं तेज गति से बरस रही है।

बरसात से कई निचले इलाकों में पानी भर गया है। गौरतलब है कि इससे पहले मौसम विभाग ने भी शुक्रवार को प्रदेश के कई जिलों में भारी बरसात का अलर्ट जारी किया था। जिसमें सीकर भी शामिल था।
कहीं झड़ी तो कहीं झमाझम जिले में बरसात को दौर गणेश्वर सहित नीमकाथाना के कई इलाकों में बीती रात से ही शुरू हो गया था। जिसने सुबह पांच बजे रफ्तार पकड़ ली।

जबकि टोडा व अजीतगढ़ सहित नीमकाथाना व श्रीमाधोपुर के कई इलाकों में सुबह पांच बजे रिमझिम बरसात का दौर शुरू हुआ।

पलसाना, फतेहपुर व धोद, लोसल व फागलवा सहित कई इलाकों में सुबह 9 बजे बाद बादल झमाझम बरसे। जबकि सीकर शहर में साढ़े दस बजे बादल मध्यम गति से बरसना शुरू हुए।

जो करीब आधे घंटे तक बरसे।सुहाना हुआ मौसम, कई जगह बढ़ी परेशानी जिलेभर में बरसात से मौसम सुहाना हो गया है। लंबे समय से जारी उमसभरी गर्मी से आमजन को राहत मिली है। लेकिन साथ ही कई निचले इलाकों में पानी भरने से स्थानीय लोगों के साथ राहगिरों की परेशानी भी बढ़ गई है।इन जिलों में जारी किया है अलर्ट मौमस विज्ञान केंद्र ने शुक्रवार को पूर्वी राजस्थान के सीकर, अजमेर झुंझुनूं, जयपुर, टोंक, भीलवाड़ा, कोटा, बारंा, झालावाड़ जिले में एक-दो स्थानों पर भारी से अति भारी बरसात होने की संभावना है।

अलवर, बूंदी, दौसा, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर व राजसमंद जिलों में एक-दो स्थानों पर भारी बरसात हो सकती है। वहीं, पश्चिमी राजस्थान के नागौर, चुरू, बीकानेर , पाली व हनुमानगढ़ जिलों में भी एक-दो स्थानों पर भारी बरसात हो सकती है।