जिला कलक्टर अंश दीप ने कहा कि कोरोना मृतक परिवार के पात्र सदस्यों को सरकारी सुविधाओं का लाभ प्राथमिकता से दिया जाए

PALI SIROHI ONLINE

पाली, 08 जुलाई। जिला कलक्टर अंश दीप ने कहा कि कोरोना मृतक परिवार के पात्र सदस्यों को सरकारी सुविधाओं का लाभ प्राथमिकता से दिया जाए।
जिला कलक्टर ने गुरूवार को मुख्यमंत्री कोरोना सहायता योजना के तहत आयोजित वीसी में संबंधित अधिकारियों से कहा कि कोरोना संक्रमण से जिले में जिन-जिन व्यक्तियों की मृत्यु हुई है उनके आश्रितों को आर्थिक सहायता के साथ ही महिलाओं को पेंशन व बच्चों को पालनहार योजना का लाभ त्वरित गति से दिया जाए।

उन्होंने कहा कि जिनके माता-पिता दोनों की कोरोना से मृत्यु हुई है उनके गारजिन का चयन कर संयुक्त बैंक खाता खुलवाया जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना से मृत्यु होने पर बीसीएमओ प्रमाण पत्र जारी करे ताकि समय पर लाभ मिल सके। कोविड़ मृत्यु में कोई-कोई वैध दस्तावेज आवश्यक होगा।

जिला कलक्टर ने कहा कि विधवा और उनके बच्चों को सरकारी सुविधा का लाभ प्राथमिकता से देना है। जिले में 317 विधवा प्रकरण, 647 प्रकरण बच्चों के है तथा 18 ऐसे बच्चे है जिनके माता-पिता की मृत्यु हुई। सर्वे के दौरान चयनित प्रकरणों में सभी दस्तावेजों के साथ प्रकरण बनाकर भेजे जाए।

उन्होंने कहा कि सिलिकोसिस मरीजों को भी सरकारी योजना का लाभ देने के ब्लाॅक स्तर पर प्रारंभिक जांच करवाई जा रहे। सिलिकोसिस बीमारी के अधिकांश रोगी दिहाड़ी मजदूर है उनकी जांच के बाद मेडिकल बोर्ड ब्लाॅक स्तर पर भिजवाया जाकर मौके पर प्र्रमाण पत्र जारी किया जाएगा ताकि उनका जिला स्तर पर आने की आवश्यकता नहीं रहेगी।

उन्होने सभी अधिकारियों से कहा कि सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ हर जरूरतमंद एवं पात्र व्यक्ति को समय पर मिले इसके लिए संवेदनशीलता से कार्य करे। उन्होंने कहा कि सर्वे के आधार पर विधवा महिलाओं को पेंशन एवं उनके पात्र बच्चों को पालनहार योजना से जोड़ना है।

उन्होंने एड्स, सिलिकोसिस पीड़ित परिवार के वंचित रहे व्यक्तियों को पालनहार योजना से जोड़ने पर बल देते हुए कहा कि आवेदन के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज लगाए जाए। उन्होंने सभी ब्लाॅक अधिकारियों से उनके क्षेत्र में कोरोना व अन्य बीमारियों से ग्रसित लोगों को सरकारी योजनाओं से लाभांवित करने के संबंध में विस्तृत जानकारी की।
वीसी में जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्वेता चौहान, अतिरिक्त जिला कलक्टर चन्द्रभानसिंह भाटी, उपखण्ड अधिकारी देशलदान, सभी ब्लाॅक के उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी, बीसीएमओ मौजूद रहे।