जवाईबांध में अब पीने का पानी एक से डेढ़ महीने का ही बचा,पीने के पानी की सप्लाई अब 48 की बजाय 72 घण्टो में होगी

PALI SIROHI ONLINE

मानसून की बेरूखी के चलते जिले में पेयजल संकट जैसे हालात हैं। जवाई बांध के कैचमेंट एरिया में बारिश नहीं होने से अब शहरी क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था में शुक्रवार से बदलाव किया जा रहा हैं। शहर में अब 48 घंटों की बजाय अब 72 घंटों में एक बार पेयजल आपूर्ति होगी यानि की तीन दिन में एक बार पानी आएगा। ग्रामीण क्षेत्र में पहले से ही पेयजल आपूर्ति 72 घंटे में एक बार की जा चुकी हैं।

जलदाय विभाग के अधिकारियों की माने तो 3 दिन में एक बार पेयजल आपूर्ति करने से प्रतिदिन करीब 3 एमसीएफटी पानी की बचत की जा सकेगी। जिससे 16 दिन अतिरिक्त मिलेंगे। वर्तमान में जवाई बांध में 14.25 फीट का गेज हैं। जिसमें 941.75 एमसीएफटी पानी उपलब्ध हैं। इसमें से 500 एमसीएफटी पानी डेड स्टोरेज निकालने के बाद सिर्फ 441एमसीएफटी पानी ही पीने योग्य बचेगा।

जिसमें से प्रतिदिन करीब 7-8 एमसीएफटी पानी प्रतिदिन खर्चकर 15 सितम्बर तक प्यास बुझाई जा सकती हैं। अगर सितम्बर तक भी बरसात नहीं हुई तो जवाई के डेड स्टोरेज से पंपिंग कर पानी लिया जाएगा। रोहट क्षेत्र के 8 टैंकरों से 22 गांवों व 25 ढाणियों में पेयजल सप्लाई किया जा रहा हैं।

सितम्बर तक यही हाल रहा तो चलानी पड़ सकती हैं वॉटर ट्रेन
इस मानसून में जवाई बांध क्षेत्र में सितम्बर तक अच्छी बरसात नहीं होती हैं तो कुएं अधिग्रहित करने एवं वॉटर ट्रेन चलाने की नौबत आ सकती हैं।

शुक्रवार से इन 10 शहरों में होगी 72 घंटे में एक बार पेयजल सप्लाई
पाली, सुमेरपुर, रानी, फालना, बाली, जैतारण, सोजत,तखतगढ़, मारवाड़ जंक्शन व शिवगंज (सिरोही) में जवाई बांध से पेयजल सप्लाई होती हैं। 13 अगस्त से अब यहां 72 घंटे में एक बार पेयजल सप्लाई होगी।