विभिन्न समाज के धर्म प्रमुखों एवं उनके प्रतिनिधियों को राज्य सरकार के निर्देशों की पालना करवाने की अपील की गई

PALI SIROHI ONLINE

पाली जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कोरोना गाइड लाईन की पालना के संबंध में विभिन्न समाज के धर्म प्रमुखों एवं उनके प्रतिनिधियों को राज्य सरकार की और से इस संबंध में जारी किए गए निर्देशों की पालना करवाने की अपील की गई है।
अतिरिक्त जिला कलेक्टर चन्द्रभानसिंह भाटी ने सभी समाज के धर्म गुरूओं एवं प्रतिनिधियों से धार्मिक आयोजनों में कोरोना गाईड़लाइन की पालना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।

उन्होंने बताया कि धार्मिक आयोजनों मे केवल मन्दिर समिति के पदाधिकारी ही पूजा अर्चना करें। जिस तरह से कोविड – 19 के मामले एक बार फिर बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं जो कि हम सभी के लिए चिंता का विषय है। उन्होंने बताया कि पाली जिले में पिछले साल की तुलना में इस बार ग्रामीण क्षेत्र के कुल आंकड़े के 40 से 45 कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं वहीं पिछले 10 दिनों में जिले में बहुत तेजी से कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या में वृद्धि हुई है जहां अभी वर्तमान में सैंकड़ों की संख्या में एक्टिव कोरोना मरीजों का आंकड़ा पहुंच चुका है। उन्होंने जिले वासियों से अपील की है कि कोरोना गाइडलाइंस का पालन सख्ती से करें एवं घरों से अनावश्यक रूप से बाहर ना निकले। उन्होंने सभी धर्मों के धर्म गुरूओं से अपील की है कि वे धार्मिक आयोजनों में अपने-अपने धार्मिक स्थलों पर कोरोना गाईडलाइन की शत-प्रतिशत पालना सुनिश्चित करायें।


अतिरिक्त जिला कलेक्टर ने बताया कि गाइडलाइन को जिले में प्रभावी रूप से लागू करवाने के लिए जिले के सभी एसडीएम को निर्देशित कर दिया गया है एवं गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करवाने के लिए संयुक्त इंर्फोसमेंट टीमों का भी गठन किया जाकर राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। इसके अतिरिक्त कोरोना संक्रमित लोगों के इलाज के लिए जिले के निजी चिकित्सालयों को भी अधिकृत किया है जिसमे राजस्थान प्रशासनिक सेवा के एक अधिकारी को नोडल ऑफिसर एवं एक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी को सहायक नोडल ऑफिसर नियुक्त किया है जो कि मॉनिटरिंग करेंगे कि राज्य सरकार के दिशा निर्देशानुसार मरीजों के इलाज के लिए पुख्ता व्यवस्था , आरक्षित बैड, उचित शुल्क आदि की सुनिश्चितता हो।


उन्होंने बताया कि विद्र्याथियों के रहने वाले छात्रावास आदि के संबंध में अभी राज्य सरकार के द्वारा कोई गाईडलाइन जारी नहीं की गई है लेकिन शिक्षण संस्थानों को बंद करने के आदेश जारी किए गए हैं तो ऐसे में सभी छात्रावासों के संचालकों से अपील है कि वे क्षमता से अधिक विद्र्याथियों को छात्रावासों में नहीं रखें और कोरोना गाइडलाइंस की पालना सुनिश्चित करे एवं विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित ना हो इसके लिए ऑनलाइन अध्ययन की व्यवस्था सुनिश्चित करें। अतिरिक्त जिला कलेक्टर ने जिले के निवासियों से अपील की है कि वह वैश्विक कोरोना महामारी के साथ की इस लड़ाई में प्रशासन एवं सरकार का सहयोग करें जिससे कि जिले में कोरोना केस ना बढ़े एवं स्थिति हमारे नियंत्रण में रहे।