चामुंडेरी में अनामाकिंत बच्चों को विघालय से जोड़ने के लिए घर घर सर्वे को पहुच रहे अध्यापक

PALI SIROHI ONLINE

चामुंडेरी में अनामाकिंत बच्चों को विघालय से जोड़ने के लिए घर घर सर्वे को पहुच रहे अध्यापक।
सर्वे के दौरान अध्यापक रताराम मीणा और गजाराम ने 3 से 5 वर्ष के बच्चों को आंगनवाडी और 6 से 18 वर्ष के अनामाकिंत बच्चों को विघालय में भेजने की बात कहि।

अध्यापक रताराम मीणा और गजाराम ने बताया की शिक्षा बालको का भवश्य है।