बढती करोना महामारी के बावजूद भी बार्डर पर बरती जा रही है लापरवाही

PALI SIROHI ONLINE

अलवर रामगढ़ में बढती करोना महामारी के बावजूद भी बार्डर पर बरती जा रही है लापरवाही।
एक तरफ जिले में रोजाना करोना महामारी से पीड़ित रोगियों की संख्या बढ़ रही है तो दूसरी तरफ राज्य सरकार और जिला कलेक्टर के आदेश के बावजूद भी हरियाणा सीमा बॉर्डर पर तैनात पुलिसकर्मियों और कर्मचारियों द्वारा लापरवाही बरती जा रही है।

घमंडीलाल मीणा तहसीलदार रामगढ़

राजस्थान हरियाणा बॉर्डर के नौगावा बॉर्डर पर बस और अन्य वाहनों में नहीं हो रही एनटीपीसी आर रिपोर्ट देखने की कार्रवाई क्योंकि कोरोना महामारी अब विकराल रूप लेती जा रही है। वही आज मीडिया कर्मी द्वारा हरियाणा सीमा का नजारा देखा तो पाया कि बसों में बैठे यात्रियों द्वारा सोशियल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा और ना ही यात्रियों और वाहन चालको से से एनटीपीसीआर और जांच रिपोर्ट देखे बिना सीमा में बेखौफ प्रवेश कर रहे हैं।

और अधिकतर वाहनचालकों के पास अलवर की विभिन्न हास्पिटल में रिश्तेदार अथवा पराजनों के भर्ती होने की पर्चियां होना भी मिलीभगत और गडबडी के संकेत दे रहे हैं। गत दिनों जिला कलेक्टर महोदय भी बॉर्डर का निरीक्षण करने के लिए आए थे। और बॉर्डर पर कार्यरत कर्मचारियों को सख्ती से ड्यूटी करने का आदेश दिए थे । एसपी ने भी रात्रि 8 बजे बॉर्डर का निरीक्षण किया था ।पुलिस कर्मियों को सख्ती बरतने के आदेश दिए थे । उसके बावजूद भी बॉर्डर पर लापरवाही बरती जा रही है ।

चेकिंग के नाम पर कागज पूर्ति की जा रही है। अधिकारियों को बॉर्डर का निरीक्षण करने के लिए आते देख दिखावा करते हैं कर्मचारी
आज दोपहर में तहसीलदार घमण्डी लाल मीणा द्वारा हरियाणा सीमा पर राज्य की सीमा में प्रवेश करने वाले वाहन चालों से एनटीपीसीआर रिपोर्ट नहीं दिखाने वाले दो वाहनों को वापस भेजा गया। और सोशियल
डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने वाले 14 लोगों के चालान काट गए। सीमा पर मौजूद कर्मचारियों को निर्देश दिए कि बिना NTPCR रिपोर्ट देखे किसी को भी प्रवेश नहीं करने देंगे।