बाली में दिव्यांग आदिवासी की सेवा में दिखा चिकित्सा विभाग,बीसीएमओ ने भीमाणा बाली टीम की सराहना की

बाली में दिव्यांग आदिवासी की सेवा में दिखा चिकित्सा विभाग,बीसीएमओ ने भीमाणा बाली टीम की सराहना की

बाली। बाली ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने बताया की बाली कोविड सेंटर में कुल आठ मरीज भर्ती है और जिसमे से आदिवासी एक दिव्याग आदिवासी भी कोरोना पॉजिटिव का उपचार जारी है। ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने बताया की बाली उपखण्ड में प्रत्येक गाव ढाणी पहाड़ी क्षेत्र में चिकित्सा विभाग मुस्तैदी से कार्य कर रहा है मुस्तेदी का ताजा अनुमान कोयलवाव ओटावतो की फ़ली का दिव्याग व्यक्ति उपचार के लिए गुजरात गया था। वहाँ से लौटने पर दिव्याग आदिवासी के घर लौटने पर तेज बुखार और अन्य लक्षण होने पर आदिवासी भिमाना क्षेत्र के चिकित्सा अधिकारी डॉ सुनील भाटी ने ततपरता दिखाते हुए एएनएम सिमा गरासिया,
मेल नर्स प्रथम बाबूलाल ने दिव्याग के परिवार के तीनो सदस्यों के कोरोना टेस्ट सेम्पल करवाने पर तीनो सदस्य कोरोना पॉजिटिव आने पर भिमाना चिकित्सा टिम ने एम्बुलेंस से तीनो पॉजिटिव को बाली कोविड सेंटर भेजा जिससे आदिवासी क्षेत्र में आमजन को सक्रमण से सुरक्षित रखने का बड़ा प्र्यास सामने आया।

बाली ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने बताया की बाली उपखण्ड अधिकारी श्री निधि बीटी ने भी कोविड सेंटर का दौरा कर व्यवस्था जानी।

बाली कोविड सेंटर में दिव्याग आदिवासी युवक के पहुचते ही बीसीएमओ डॉ हितेन्द्र वागोरिया की मौजूदगी में डॉ ललित चौधरी,डॉ प्रेम कुमार बरबर और नर्सिग कर्मी सुरेन्द्र सिंह आडा ने मोजूद रहकर दिव्याग की स्वास्थ जॉच कर गुवतापूर्वक भोजन करवाया।

कोयलवाव ग्राम विकास अधिकारी मिश्री लाल ने बताया आदिवासी पहाड़ी क्षेत्र अभी तक कोरोना सक्रमण से सुरक्षित रहा जिला कलेक्टर अंशदीप,बाली एसडीएम श्री निधि बीटी,बाली बीसीएमओ डॉ हितेन्द्र वागोरिया की चिकित्सा टीम के डॉक्टर सुनील भाटी ने ततपरता दिखाते हुए गुजरात से आये विकलांग कोरोना पॉजिटिव की जॉच कर पहचान हुई। ग्राम पंचायत ने क्षेत्र में सेनेटाइज छिड़काव करवाया तो चिकित्सा टीम ने हेल्थ स्क्रीनिंग शुरू की।