पैंथर आने की सूचना पर एसडीएम तहसीलदार पहुचे घटना स्थल


मुंडारा।समीपवर्ती डुंगरली ग्राम में पैंथर आने से काश्तकारों में अफरातफरी मच गई। शुक्रवार दोपहर को डुंगरली ग्राम के बेरा नोकरा वल्डा पर फुलपुरी गोस्वामी फसल को पानी पिला रहा था कि एक पैंथर को देखकर घबरा गया।उसने चोर मचाना शुरू कर दिया।आसपास के काश्तकार शामिल हो गए।चोर मचाने पर पैंथर नीम के पेड़ पर चढ़ गया।पुरी ने स्थानीय ग्रामीणों व प्रशासन को पैंथर की मौजूदगी के बारे में अवगत कराया।सूचना मिलते ही बाली उपखण्ड अधिकारी श्रीनिधि बीटी, बाली तहसीलदार सर्वेश्वर निम्बार्क, जवाई वाइल्डलाइफ कंजर्वेशन एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट के जिला प्रभारी लक्ष्मण पारंगी, कृष्णपाल पारंगी मौके पर पहुंचे।

तब तक पैंथर नीम के पेड़ से उतरकर खेतों की तरफ भाग गया।अधिकारियों व ग्रामीणों ने पैंथर को ढूंढने के प्रयास भी किए।परन्तु पैंथर नहीं मिला।पगमार्क की मौजूदगी को देखकर बताया गया कि नर पैंथर करीबन तीन साल का हैं।व लॉकडाउन होने व गर्मी के चलते पैंथर आबादी क्षेत्र की तरफ आ रहे हैं।
उपखण्ड अधिकारी व तहसीलदार व जवाई वाइल्डलाइफ प्रभारी ने बताया कि पैंथर को देखने पर प्रशासन को सूचित करें।बचाव में किसी भी तरह का जानवर को नुकसान नहीं पहुचावे।कभी जानलेवा भी साबित हो सकता है।


एकाएक पैंथर की मौजूदगी से काश्तकारों में अफरातफरी मच गई।मौके पर पूर्व उपसरपंच शिवतलाव अरविंदसिंह राजपुरोहित, पाली जिला कांग्रेस महासचिव यशपालसिंह राजपुरोहित व ग्रामीण मौजूद थे।